यूपी कौशल सतरंग योजना 2023:ऑनलाइन आवेदन, Registration , Application form

यूपी कौशल सतरंग योजना , Uttar Pradesh Koushal Satrang Yojana, कौशल सतरंग योजना आवेदन पत्र, UP Koushal Satrang Yojana Online Registration |

UP Koushal Satrang Yojana – राज्य के बेरोजगार युवाओ को रोजगार प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा यूपी कौशल सतरंग योजना (UP Koushal Satrang Yojana) को शुरू करने की घोषणा की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के युवाओ को कौशल प्रशिक्षण से लेकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जायेंगे । “कौशल सतरंग” का मतलब होता है कि योजना के तहत लोग विभिन्न विषयों में प्रशिक्षित होते हैं, जैसे कि गैर-सरकारी संगठनों द्वारा प्रदान किए जाने वाले कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम, व्यवसायिक प्रशिक्षण, और कौशल सम्बंधित पाठयक्रम। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से UP Koushal Satrang Yojana से सम्बंधित सभी जानकारी जैसे – उद्देश्य , लाभ , पात्रता आदि की जानकारी प्रदान कर रहे है। क्रप्या आप हमारे इस आर्टिकल को विस्तारपूर्वक पूरा पढ़िए।

UP Koushal Satrang Yojana

UP Koushal Satrang Yojana 2023

उत्तर प्रदेश में शुरू हो रही यूपी कौशल सतरंग योजना 2023 राज्य के लगभग 2.37 लाख युवाओ को प्रशिक्षण प्रदान करने वाली एक कौशल विकास योजना है। इस योजना के तहत राज्य के प्रत्येक जिले के सेवायोजन कार्यालय में मेगा जॉब फेयर का आयोजन किया जायेगा। कौशल सतरंग के अंतर्गत 7 घटक ( योजनाएं ) होंगे। जो राज्य के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करेंगे। उत्तर प्रदेश राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी UP Koushal Satrang Yojana का लाभ प्राप्त करना चाहते है। तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। यूपी कौशल सतरंग योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 1200 करोड़ रूपये के बजट का आबंटन किया गया है। यह योजना न केवल प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में शामिल होने वाले किसी भी व्यक्ति का उज्ज्वल भविष्य बनाएगी, बल्कि प्रशिक्षण कॉलेज में भी प्रभावी ढंग से अपने कौशल का निर्माण करने मैं मदद करेगी।

यूपी कौशल सतरंग योजना का संक्षिप्त विवरण   

योजना का नामUP Koushal Satrang Yojana
शुरू की गईमुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी द्वारा
वर्ष2023
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभार्थीयूपी के नागरिक
उद्देश्ययुवाओ को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना
योजना का प्रकारराज्य सरकारी योजना
आवेदन प्रक्रियाउपलब्ध नही
आधिकारिक वेबसाइट sewayojan.up.nic.in

यूपी परिवार कल्याण कार्ड

UP Koushal Satrang Yojana का उद्देश्य

कौशल सतरंग योजना उत्तर प्रदेश में विकास और रोजगार सृजना के लिए महत्वपूर्ण योजना है। जिसका उद्देश्य युवाओं को कौशल विकसित करके उनके रोजगार के अवसरों को बढ़ाना है। तथा युवाओ को विभिन्न कौशलों का सीखना और प्रशिक्षण प्राप्त करने का मौका प्रदान करना है। ताकि उन्हें रोजगार प्राप्त करने की क्षमता मिले और उनका आर्थिक विकास हो सके। जिससे उन्हें अधिक आत्मनिर्भर बनने का मौका मिलता है। इसके अलावा, यह योजना रोजगार सृजना के लिए भी सहायता प्रदान करती है, और प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार के अवसरों से जोड़ने का प्रयास करती है। यह योजना युवाओ को आत्मनिर्भर बनाने और उनका भविष्य बनाने के लिए म्हेत्व्पूर्ण भूमिका निभाती है।

यूपी कौशल सतरंग योजना के अंतर्गत 7 घटक

  • मुख्यमंत्री युवा हब योजना – “यूपी युवा हब योजना” (UP Yuva Hub Yojana) उत्तर प्रदेश में युवाओं को विभिन्न कौशलों का विकास करने के लिए प्रशिक्षण प्रदान और रोजगार प्राप्त करने में मदद करती है। यह योजना युवाओं के लिए रोजगार के अवसर प्राप्त करने के लिए विभिन्न क्षेत्रों में उनके कौशल और प्रशिक्षण को समर्थन प्रदान करती है। इस योजना के तहत युवाओं को कौशल विकास , रोजगार प्राप्ति , उद्यमिता और व्यवसाय आदि अलग – अलग क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाता है।
  • मुख्यमंत्री अप्रेंटिसशिप प्रमोशन योजना- मुख्यमंत्री अप्रेंटिसशिप प्रमोशन योजना (Mukhyamantri Apprenticeship Promotion Scheme) के तहत युवाओ को किसी भी अप्रेंटिसशिप में काम करने पर राज्य सरकार द्वारा 2,500 रूपये प्रदान किये जायेंगे। और इसके अतिरिक्त बेरोजगार युवाओ को प्रशिक्षण प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 1,500 रुपये, राज्य सरकार द्वारा 1,000 रुपये और इसके अतिरिक्शेत शेष राशि संबंधित उद्योग द्वारा वहन की जाएगी।
  • जिला कौशल विकास योजना- जिला कौशल विकास योजना के तहत जिले में जिलाधिकारी (DM) द्वारा कमेटी तैयार की जाएगी। जो राज्य के युवाओ के लिए जॉब रजिस्ट्रेशन का काम करेगी।
  • तहसील स्तर पर कौशल पखवाड़ा योजना – इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश राज्य के युवाओ को LED वैन कौशल विकास योजनाओ की सूचना उपलब्ध करायी जाएगी।और रोजगार प्रदान करने के लिए तहसील स्तर पर कौशल पखवाड़ा का आयोजन किया जाएगा।
  • रिकग्नीशन ऑफ प्रायर लर्निग योजना – रिकग्नीशन ऑफ प्रायर लर्निग योजना के अंतर्गत परंपरागत उद्योगों से जुड़े कारीगरों का प्रमाणीकरण किया जाएगा।
  • प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलव्ध करवाना – इस योजना के अंतर्गत IIT कानपूर ,IIM लखनऊ के साथ MOU हुआ है। जहाँ स्कूलों के अतिरिक्त जैसे शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग और पशुपालन विभाग से AMOU के तहत आरोग्य मित्रों व गौ-पालकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। और बच्चो को एडमिशन लेने के बाद कौशल विकास की ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी ।
  • प्लेसमेंट एजेंसी- युवाओ को बेहतर तरीके से रोजगार दिलाने के लिए प्लेसमेंट एजेंसी के साथ MOU किया गया है ।

यूपी कौशल सतरंग योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश राज्य के सभी युवाओ को प्रदान किया जायेगा।
  • इस योजना के माध्यम से युवाओ को कौशल प्रशिक्षण से लेकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जायेंगे।
  • यूपी कौशल सतरंग योजना 2023 के अंतर्गत सरकार द्वारा 7 घटक लागू किये गये है।
  • राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में रोजगार मेले का आयोजन कर युवाओं को प्रशिक्षण से जोड़ा जौयेगा।
  • कौशल विकास योजना के लागू होने से राज्य में बढती हुई बेरोजगारी को रोकथाम मिलेगी।
  • इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करके युवा विभिन्न कौशलों में माहिर होते है । जिससे उनके रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिलता है।
  • यह योजना उत्तर प्रदेश के युवाओ को विभिन्न उद्योगों और छेत्रो में रोजगार के अवसर प्रदान करती है।
  • जिससे युवाओ की आर्थिक स्थिति में सुधर होता है।
  • इस योजना के अंतर्गत युवाओ को व्यवसाय खोलने और स्वरोजगार के अवसर प्राप्त करने का मौका भी मिलता है।
  • कुछ स्थानों पर कौशल विकास योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण पूरा करने वाले युवाओ को वित्तीय सहायता भी प्रदान की जाती है।
  • जिससे उन्हें प्रशिक्षण के दौरान आर्थिक संकट के बचाव मिलता है।
  • UP Koushal Satrang Yojana के तहत दी जाने राशि को लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रान्सफर किया जायेगा।
  • इसके अलावा यह योजना उत्तर प्रदेश के युवाओ को आत्मनिर्भर बनाने के लिए म्हेत्व्पूर्ण भूमिका निभाती है।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना 

यूपी कौशल सतरंग योजना की पात्रता

  • आवेदन उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • लाभार्थी की कोई सरकारी नौकरी नही होनी चाहिए।
  • योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक बेरोजगार होना चाहिए।

UP Koushal Satrang Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

यूपी कौशल सतरंग योजना के तहत आवेदन

उत्तर प्रदेश राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी यूपी कौशल सतरंग योजना के तहत आवेदन करना चाहते है। तो अभी उनको थोड़े समय इन्तेजार ( Wait ) करना होगा। क्योकि सरकार द्वारा अभी यूपी कौशल सतरंग योजना को शुरू करने की घोषणा की गई है। मतलब अभी इसके लिए कोई आवेदन प्रक्रिया जारी नही की गई है। जैसे ही इस योजना को पूरी तरह से शुरू कर दिया जायेगा वैसे ही हम आपको जानकारी ज़रूर देंगे। ताकि आप आसानी से आवेदन करके योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

यूपी कौशल सतरंग योजना से जुड़े प्रशन उत्तर

Ques – यूपी कौशल सतरंग योजना क्या है?

Ans – यूपी कौशल सतरंग योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजना है। इस योजना के अंतर्गत, युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। ताकि वे अपने कौशलों को विकसित कर सकें और रोजगार के अवसरों का उपयोग कर सकें।

Ques – उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना का उद्देश्य ?

Ans – इस योजना का मुख्य उद्देश्य युवाओं को विभिन्न कौशलों का सीखने और रोजगार प्राप्त करने का मौका प्रदान करना है।

Ques – UP Koushal Satrang Yojana के लाभार्थी कौन हो सकते हैं?

Ans – कौशल सतरंग योजना के लाभार्थी आमतौर पर उत्तर प्रदेश के युवाएं होते हैं, जो कौशल प्रशिक्षण और रोजगार प्राप्ति के लिए इच्छुक होते हैं।

Ques – कौशल सतरंग योजना के तहत कौशल प्रशिक्षण किस प्रकार काम करता है?

Ans – कौशल सतरंग योजना के तहत कौशल प्रशिक्षण गैर-सरकारी संगठनों या प्रशिक्षण संस्थानों द्वारा प्रदान किया जाता है। युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाता है। जैसे कि व्यवसायिक प्रशिक्षण, गैर-सरकारी कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम, और अन्य कौशल संबंधित पाठयक्रम।

Leave a Comment